एकात्मता मंत्र | Ekatmata Mantra PDF

Download PDF of एकात्मता मंत्र Ekatmata Mantra in Hindi Lyrics

एकात्मता मंत्र Ekatmata Mantra (एकता मंत्र) एक विशिष्ट मंत्र होता है जो कोई व्यक्ति एकात्मता मंत्र का पाठ करता है उसमें ऊर्जा का संचार होता है एकात्मता मंत्र में सभी भक्तों के उनके आराध्या के बारे में बताया हुआ है इसमें कहा गया है कि प्राचीन ऋषि जिसे इंद्रियम कह कर पुकारते थे तथा कोई इसे वेदांती ब्रह्मा शब्द से पुकारते हैं शैव जिसको शिव और वैष्णव जिसको विष्णु कहकर स्तुति करते हैं बौद्ध और जैन जिसे बौद्ध और महावीर स्वामी कहते हैं तथा सिक्ख संत जिसे सत् श्री अकाल कहकर पुकारते हैं तथा कोई इसे स्वामी माता पिता कहकर भक्ति पूर्वक प्रार्थना करते हैं वह प्रभु एक ही है और आदित्य है इसका कोई भी जोड़ नहीं है।

You will get the PDF of Ekatmata Mantra and its Hindi translation from the given link. this Mantra is also known as ekta mantra.

यं वैदिका मन्त्रदृशः पुराणा
इन्द्रं यमं मातरिश्वानमाहुः ।
वेदान्तिनोऽनिर्वचनीयमेकं
यं ब्रह्मशब्देन विनिर्दिशन्ति ।

शैवा यमीशं शिवइत्यवोचन्
यं वैष्णवा विष्णुरिति स्तुवन्ति ।
बुद्धस्तथाऽर्हन्निति बौद्धजैनाः
सत् श्री अकालेति च सिक्खसन्तः ।

शास्तेति केचित् कतिचित् कुमारः
स्वामीति मातेति पितेतिभक्त्या ।
यं प्रार्थयन्ते जगदीशितारं
स एक एव प्रभुरद्वितीयः ॥

Ekatmata Mantra PDF Download

Download PDF Now


REPORT THIS

If the download link of एकात्मता मंत्र | Ekatmata Mantra PDF is not working or if any way it violates the law or has any issues then kindly Contact Us. If एकात्मता मंत्र | Ekatmata Mantra PDF contain any copyright links or material then we will not further provide its pdf and any other downloading source.

Leave a Comment