श्री गणेश आरती | Ganesh Ji Ki Aarti PDF in Hindi

You are currently viewing श्री गणेश आरती | Ganesh Ji Ki Aarti PDF in Hindi

श्री गणेश भगवान जी आरती | Shri Ganesh Ji Ki Aarti in PDF Hindi With Lyrics

Ganesha (Sanskrit: गणेश, IAST: Gaṇeśa), also known as Ganapati and Vinayaka, is one of the best-known and most worshipped deities in the Hindu pantheon. Lord Ganesha is considered to be the remover of all obstacles, Lord Ganesha is considered to be the most revered of all the gods, that is, if any worship, recitation is done in India in any way, then Lord Ganesha is worshiped first. Because Lord Ganesha is considered as the destroyer of obstacles and the one who takes away any problems.

गणेश भगवान जी को समस्त विघ्नों का हरण करने वाला माना जाता है गणेश भगवान को सभी देवों में सबसे ज्यादा पूज्य माना जाता है यानी किसी भी तरीके से कोई भी पूजा, पाठ भारत में किया जाता है तो सबसे पहले गणेश भगवान की पूजा की जाती है क्योंकि गणेश भगवान जी को विघ्नहर्ता माना जाता है और किसी भी समस्याओं को दूर ले जाने वाला माना जाता है।

जो व्यक्ति गणेश भगवान की पूजा करता है उसकी सभी दुख दर्द तथा सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती है। गणेश भगवान जी को सभी देवों से सभी प्रकार की शक्तियां मिली है तथा गणेश भगवान को सबसे पहले पूजा जाने का भी वरदान उन्हें प्राप्त है।

गणेश भगवान जी भगवान शिव जी तथा माता पार्वती के पुत्र हैं जिन्हें हिंदू धर्म में कई और अन्य नामों से जाना जाता है और विशेष पूजा की जाती है चाहे कोई भी काम शुरू करें तो सबसे पहले गणेश भगवान को याद किया जाता है

इसीलिए हमने आप सभी के लिए यह दिव्य आरती लाई है जिसे आप रोजाना बोलने पर आपको हर तरीके की समस्याएं, दुख होगी तथा आपके घर में सुख सौभाग्य की वर्षा होगी.

गणेशजी की आरती Ganesh Ji Ki Aarti Lyrics

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा। माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी। माथे पर तिलक सोहे मूसे की सवारी॥

पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा। लड्डुअन का भोग लगे सन्त करें सेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा। माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

अन्धे को आँख देत, कोढ़िन को काया। बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया॥

‘सूर’ श्याम शरण आए सफल कीजे सेवा। माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा। माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

गणेश भगवान की जय…

English Lyrics –

Jai ganesh jai ganesh Jai ganesh deva Mata jaki parwati Pita maha deva (x2)

Ek dant daya want Char bhuuja dhari Mathe sindor shoye Muse ki sawari

Ek dant daya want Char bhuuja dhari Mathe sindor shoye Muse ki sawari

Pan chadhe Phool Chadhe Aur Chadhe Mewa Laduan ko bhog lage Sant kare seva

Jai ganesh jai ganesh Jai ganesh deva Mata jaki parwati Pita maha deva

Andhan ko aankh det Kodhin ko kaya (x2) Bajhan ko purta det Nirdhan ko maya

Surya Shaam Sharan aaye Safal ki jiye sewa Jai ganesh jai ganesh Jai ganesh deva

Mata jaki parwati Pita maha deva (x2)

Ganesh Ji Ki Aarti in Hindi PDF Download

नीचे दिए गए PDF link से आप Ganesh Ji Ki Aarti PDF Download कर सकते हैं.

Download PDF Now


REPORT THIS

If the download link of श्री गणेश आरती | Ganesh Ji Ki Aarti PDF in Hindi is not working or if any way it violates the law or has any issues then kindly Contact Us. If श्री गणेश आरती | Ganesh Ji Ki Aarti PDF in Hindi contain any copyright links or material then we will not further provide its pdf and any other downloading source.

Leave a Reply