जन गण मन | Jan Gan Man PDF in Hindi

Download PDF of India’s National Anthem Jan Gan Man PDF in Hindi

जन गण मन भारत का राष्ट्र गान है जिसे रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा लिखा गया राष्ट्र गान की गायन अवधी ५२ सेकंंड है संविधान सभा ने जन-गण-मन हिन्दुस्तान के राष्ट्रगान के रूप में २४ जनवरी १९५० को अपनाया था। इसे सर्वप्रथम २७ दिसम्बर १९११ को कांग्रेस के कलकत्ता अब दोनों भाषाओं में (बंगाली और हिन्दी) अधिवेशन में गाया गया था। पूरे गान में ५ पद हैं।

National Anthemजन गण मन / Jan Gan Man
AuthorRabindranath Tagore
CountryIndia
Time Duration52 Seconds

राष्ट्रीय गान (जन गण मन) हिंदी में

A side profile of a woman in a russet-colored turtleneck and white bag. She looks up with her eyes closed.

जनगणमन-अधिनायक जय हे भारतभाग्यबिधाता!

पञ्जाब सिन्धु गुजराट मराठा द्राबिड़ उत्कल बङ्ग

बिन्ध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्छल जलधि तरङ्ग

तब शुभ नामे जागे, तब शुभ आशिष मागे,

गाहे तब जयगाथा।

जनगणमङ्गलदायक जय हे भारतभाग्यबिधाता!

जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे॥

— रवीन्द्रनाथ टैगोर, लेखक

National Anthem of India Lyrics in English

Jana gana mana adhinaayak jaya hai
Bhaarat bhagya vidhaata
Panjaab, sindh, gujraat, maraatha
Draavid utkal banga
Vindya, himaachal, yamuna, ganga
Utchchhal jaldhi taranga
Tab shubh naame jaage
Tab shubh aashish maage
Gaahe tab jay gaatha
Jana gana mangal daayak jay he
Bhaarat bhagya vidhaata
Jaya hey…
Jaya hey…
Jaya hey…
Jaya jaya jaya jaya hey…

राष्ट्र गान का वादन

1. राष्ट्र गान का पूरा पाठ निम्नलिखित अवसरों पर बजाया जायेगा :

  • सिविल तथा सैनिक सम्मान समारोहों के अवसर पर
  • जब राष्ट्रीय सिलूट (जिसका तात्पर्य है राष्ट्रीय सलामी सलामी शस्त्र का आदेश जो राष्ट्र गान के साथ ही दिया जाता है) समारोहों के अवसरों पर राष्ट्रपति को या अपने अपने राज्यों / संघ शासित क्षेत्रों में राज्यपाल और उप राज्यपाल को दिया जाता है ;
  • परेडों के समय चाहे उपर्युक्त (ख) में बताए गए गणमान्य व्यक्तियों में से कोई उपस्थित हो या न हो;
  • औपचारिक राजकीय समारोहों तथा सरकार द्वारा आयोजित अन्य समारोहों और मेस (तथा) समारोहों में राष्ट्रपति के आने पर तथा ऐसे समारोहों से उनके जाते समय ;
  • आकाशवाणी से राष्ट्र के नाम राष्ट्रपति के संदेश प्रसारित किए जाने से ठीक पहले और बाद में
  • राज्यपाल / उपराज्यपाल के अपने राज्य / संघ शासित क्षेत्र में औपचारिक राजकीय समारोहों में आने पर और ऐसे समारोहों से उनके जाते समय
  • जब राष्ट्रीय झंडे को परेड में लाया जाए
  • जब रेजीमेंट को निशान प्रस्तुत किए जाएं
  • नौ सेना में ध्वजारोहण के समय

2. राष्ट्र गान का संक्षिप्त पाठ मेसों में किसी के सम्मान में पेय पान करते समय बजाया जायेगा । किसी भी ऐसे अन्य अवसर पर राष्ट्र गान बजाया जायेगा जिसके लिए भारत सरकार ने विशेष 3. आदेश जारी किए हों ।

3. सामान्यत: प्रधानमंत्री के लिए राष्ट्र गान नहीं बजाया जायेगा तथापित विशेष अवसर पर 4. प्रधानमंत्री के लिए भी इसे बजाया जा सकता है।

4. जब बैंड के साथ राष्ट्रीय गान गाया जाए, तो श्रोताओं को यह ज्ञान कराने के लिए कि राष्ट्रीय गान प्रारम्भ होने वाली है, राष्ट्रीय गान शुरू होने से पहले मृदंग बजाए जाएंगे, जब तक कि ऐसा कोई अन्य विशिष्ट संकेत न हो कि राष्ट्रगान शुरू होने वाला है, उदाहरणार्थ, राष्ट्र गान शुरू होने से पहले बिगुल बजाए जाते हैं, अथवा जब कि राष्ट्र गान के साथ पेय पान किया जाता है अथवा जब राष्ट्र गान गार्ड आफ आनर द्वारा दी गई राष्ट्रीय सलामी के साथ होता है। मार्चिंग ड्रिल की भाषा में रोल की अवधि धीरे-धीरे मार्चिंग के 7 कदम होंगे । रोल धीरे-धीरे आरंभ होगा, पूरी अवधि तक बढ़ता जाएगा और इसके पश्चात धीरे-धीरे कम होकर पूर्व स्थिति में आ जाएगा, किन्तु वीं धुन तक सुनाई देता रहेगा । इस प्रकार राष्ट्र गान के आरम्भ होने से पहले एक धुन का अन्तराल रहेगा ।

संक्षिप्त रूप

राष्ट्रगान को संक्षिप्त रूप से भी लाया जा सकता है राष्ट्रगान का पूर्ण संस्करण 52 सेकंड का होता है तथा राष्ट्रगान की पहली और अंतिम पंक्तियों को साथ करके संक्षिप्त संस्करण भी विशिष्ट अवसरों पर बजाए जाना आम बात है इससे इस प्रकार से गाया जाता है, संक्षिप्त संस्करण का समय 20 सेकंड है।

जन-गण-मनअधिनायकजयहे

भारत-भाग्‍य-विधाता।

जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।

Download PDF Now

Leave a Comment

You cannot copy content of this page