Dr. Pragya Jain IPS: अगर कोई इंसान किसी लक्ष्य को पाने की कोशिश करता है और वह अपनी की गई कोशिश में 2-3 बार नाकामयाब भी हो जाये लेकिन हार से बिना डरे प्रयाश करता रहे तो वह एक न एक दिन जरूर सफलता उसके कदम चूमती है जी हाँ आज हम ऐसी ही एक सख्सियत के बारे में बात करने वाले है जो की उत्तर प्रदेश के एक छोटे से कस्बे बड़ौत की रहने वाली डॉ प्रज्ञा जैन की है, प्रज्ञा को UPSC की तेैयारी शुरू करने से पहले अपना डॉक्टर तथा प्रैक्टिस Job छोड़ना पड़ा था तब जाकर तीसरे प्रयाश में उनका IPS बनने का सपना पूरा हुआ.

upsc dr pragya jain ips success story

UPSC exam क्रैक करने के बाद प्रज्ञा जैन ने अपने एक interview में बताया की उनकी पढाई उत्तर प्रदेश के एक छोटे से कस्बे से हुई थी साथ ही उन्होंने बताया उनकी माता यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएटड है तथा पिता एक आयुर्वेदिक डॉक्टर है यानि दोनों पढ़े लिखे है जिसका उन्हें UPSC की तैयारी में बहुत फायदा हुआ.

आगे उन्होंने बताया उनके माता पिता पहले से ही उनकी शिक्षा पर जोर देते थे जिसका रिजल्ट था की प्रज्ञा ने 10th और 12th में पूरे जिला स्तर पर पहली रैंक हासिल की, डॉक्टर बनने का सपना भी प्रज्ञा जैन को बचपन से ही था क्योकि वे बीमार या दुखी लोगों को देखकर उनके लिए कुछ करने का सोचती थी इसलिए उन्होंने बाद में डॉक्टरी का पेशा भी चुना.


डॉक्टरी शुरू करने के कुछ साल बाद उन्हें लगा कि लोगों की मदद एक बड़े स्तर पर भी की जा सकती है तब उनके मन में UPSC का खयाल आया जिसमें कि वह आईपीएस बन कर के भी लोगों की मदद कर सकती हैं.

dr pragya jain ips success story

फिर क्या था उन्होंने यूपीएससी की तैयारी जोरो जोरो से शुरू कर दी और पहले ही प्रयास में वह Interview तक तो पहुंच गई लेकिन इंटरव्यू में कम नंबर होने की वजह से वह यूपीएससी की लिस्ट में अपनी जगह नहीं बना पाई.जब उन्होंने दूसरा प्रयास किया तो तबीयत खराब होने के कारण वह अपना Prelims Exam भी क्लियर नहीं कर पायी.

अब उन्होंने अपना तीसरा प्रयास किया तो अबकी बार वह प्रेग्नेंसी के दौर से गुजर रही थी और डॉक्टरों ने उन्हें इस हालत में रेस्ट करने की सलाह दी थी, तब IPS Dr. Pragya Jain ने बताया कि मे उस समय हिम्मत न हारते हुए और हौसला रख कर UPSC के इंटरव्यू तक पहुंच गई और इस बार मैंने खूब मेहनत के साथ 2017 में अपना इंटरव्यू क्लियर किया और फाइनल मेरिट लिस्ट में मेरा भारतीय पुलिस सेवा IPS में चयन हो गया.

इस प्रकार डॉक्टर प्रज्ञा जैन ने अपने हौसले को कभी टूटने नहीं दिया, इस प्रकार से एक छोटे से कस्बे से निकलकर बड़ों होसलो वाली इस बेटी ने IPS अफसर बनकर ना सिर्फ अपने परिवार का नाम ऊंचा किया है बल्कि देश का नाम भी रोशन किया है. सलाम है इनके जज्बे को.

Success Story: पढ़ें उस लड़की के हौसले की कहानी, जो कोमा से निकलकर बनी IRS अधिकारी

Success Story: 3 बार IAS की परीक्षा क्वालीफाई कर चुके हैं आकाश बंसल की कहानी

Upsc Success Story: 12वीं में 60% लाने वाला बना IAS TOPPER Junaid Ahmad